सनातनका अद्वितीयत्व

आध्यात्मिक शोध

सनातन-निर्मित श्री गणपति के चित्रों की आध्यात्मिक विशेषताएं
‘श्री सिद्धिविनायक मूर्ति प्रतिष्ठापना विधि’का विधि के घटक एवं पुरोहितों पर सकारात्मक...
श्री गणेशचतुर्थी से समय प्राणप्रतिष्ठा की हुई गणेशमूर्ति का देवत्व अगले दिन...
भ्रूमध्य पर दैवी चिन्ह अंकित होने का अध्यात्मशास्त्र !
श्री विद्याचौडेश्‍वरी देवी द्वारा परात्‍पर गुरु डॉ. आठवलेजी के सहस्रार पर लगाई...
पितृपक्ष में श्राद्धविधि (श्राद्धकर्म) करने के पश्‍चात पितरों के पिंड में अत्‍यधिक...
‘एलोपैथिक सेनिटाइजर’ (रोगाणुरोधक) की तुलना में ‘आयुर्वेदिक सेनिटाइजर’ का उपयोग करना स्‍वास्‍थ्‍य...
भारतीय संस्कृति के अनुसार नवसंवत्सरारंभ (गुढीपाडवा) के सात्त्विक वातावरण में गुढीपूजन कर...

अधिक वृत्त पढें…

सनातन आश्रम

वाराणसी सेवाकेंद्र के प्रांगण में उगा हुआ विशेषतापूर्ण अमरूद का पेड !
रामनाथी (गोवा) सनातन आश्रम के ध्यानमंदिर में अनेक देवी-देवता होने का विश्लेश्ण
ईश्वरीय राज्य का प्रतिरूप सनातन का प्रत्येक आश्रम, व्यवस्थापन का आदर्श उदाहरण...
सनातन संस्था के ध्वनीचित्रीकरण विभाग का विस्तारित स्वरूप और उसके अंतर्गत होनेवाले...
सनातन के सभी आश्रमों एवं प्रसारसेवा में सक्रिय साधकों को भावविश्‍व में...
नासिक की ज्योतिष एवं वास्तु तज्ञ श्रीमती शुभांगिनी पांगारकर, श्रीमती वसुंधरा संतान...
आश्रम की बढती सात्त्विकता की प्रतीति देनेवाले दैवी परिवर्तन !
हिन्दू-संगठन एवं हिन्दू राष्ट्र की स्थापना का दिशादर्शक केंद्र !

अधिक वृत्त पढें…

साधकों की विशेषताएं

अधिक वृत्त पढें…