सनातन के साधक और हिन्दू जनजागृति समिति के कार्यकर्ताआें द्वारा कोलकाता के श्री सत्यानंद महापीठ के स्वामी मिगरानंद महाराज से भेंट

स्वामीजी ने समिति और संस्था के कार्य की प्रशंसा की, साथ ही विगत ३५ वर्षों से वे अपने स्तरपर हिन्दू राष्ट्र के लिए कार्यरत हैं, इसकी जानकारी भी दी ।

सनातन संस्था धर्मजागृति का अत्यंत प्रशंसनीय कार्य कर रही है !

सनातन संस्था के साधक अतिशय मधुरभाषी होते हैं । उनके जीवन की आवश्यकताएं न्यूनतम होती हैं तथा वे राष्ट्र एवं धर्म का अधिकाधिक कार्य करने की कामना रखते हैं । मैने उनमें कठीन स्थिति में भी ‘स्वयं के निरीक्षण करना’ यह आश्‍चर्यजनक गुण देखा है । उन्हें अत्यंत अच्छा मार्गदर्शन मिल रहा है ।

रामनाथी, गोवा के सनातन आश्रम को घाटकोपर, मुंबई के संत पू. जोशीबाबा ने किए चरणस्पर्श !

३ मार्च को यहां के सनातन आश्रम को घाटकोपर, मुंबई के पू. जोशीबाबा (पू. पराशर जोशीबाबा) के चरणस्पर्श का लाभ हुआ । पू. जोशीबाबा को सनातन के साधक श्री. सागर निंबाळकर ने राष्ट्र एवं धर्म के संदर्भ में आश्रम में चल रहे कार्य की जानकारी दी ।

सनातन संस्था जो जागृति कर रही है, वह जागृति सभी में हो ! – प.पू. स्वामिनी मंगलानंदा, अकोला

यहां की अधिवक्ता श्रीमती वैशाली गावंडे के निवासस्थान पर ब्रह्मलीन प.पू. स्वामी चिन्मयानंदजी की शिष्या तथा आचार्या चिन्मय मिशन, अकोला की प.पू. स्वामिनी मंगलानंदा के श्रीमत्भगवद्गीता सप्ताह का आयोजन किया गया था ।

साध्वी सरस्वतीजी द्वारा सनातन संस्था की प्रशंसा

यहां साध्वी सरस्वतीजी द्वारा आयोजित श्रीमद्भागवत सत्संग प्रेम महोत्सव में हिन्दू जनजागृति समिति के राष्ट्रीय मार्गदर्शक पू. डॉ. चारुदत्त पिंगळेजी ने उपस्थित भाविकों का मार्गदर्शन किया ।

आप के (सनातन के) ग्रंथ और सत्संग से लोग धर्माचरण करने लगेंगे । – मार्कंडेय आश्रम, आेंकारेश्‍वर के स्वामी प्रणवानंदजी महाराज

हिन्दू जनजागृति समिति के राष्ट्रीय मार्गदर्शक पूज्य डॉ. चारुदत्त पिंगळेजी ने यहां नर्मदा तट पर स्थित मार्कंडेय आश्रम के प्रमुख स्वामी प्रणवानंदजी महाराज से भेंट की । इस समय पूज्य डॉ. पिंगळेजी ने तथा सनातन द्वारा प्रकाशित ग्रंथसंपदा से उन्हें अवगत कराया |

सनातन-प्रकाशित ग्रंथों के कारण लोग धर्माचरण निरंतर कर पाएंगे ! – स्वामी प्रणवानंदजी महाराज

हिन्दू जनजागृति समिति के राष्ट्रीय मार्गदर्शक पू. चारुदत्त पिंगळेजी ने यहां के मार्कंडेय आश्रम के प्रमुख स्वामी प्रणवानंदजी महाराजजी से ४ जनवरी को नर्मदा तट पर स्थित मार्कंडेय आश्रम में भेंट की।

सनातन संस्था के लिए मेरे आशीर्वाद तो निरंतर ही रहेंगे ! – शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती

६ दिसम्बर को प्रात: अधिवक्ता श्री. रवि शिराळकर के निवास पर सनातन संस्था के साधक तथा हिन्दू जनजागृति समिति के कार्यकर्ताओं ने शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वतीजी का दर्शन लेकर आशीर्वाद लिये।

परात्पर गुरु डॉ. आठवलेजी के कार्य को नाथ संप्रदाय द्वारा सहायता !

परात्पर गुरु डॉ. आठवलेजी का कार्य अवतारी ही है । कहते हैं कि अवतार जब कार्य के लिए जन्म लेता है, तब उसके कार्य में सहभागी होने के लिए उसके देवतागण भी जन्म लेते हैं । इसी की प्रतीति परात्पर गुरु डॉ. आठवलेजी के हिन्दू राष्ट्र-स्थापना के अवतारी कार्य में साधकों को हो रही है ।