सनातन संस्था द्वारा उत्तरप्रदेश, हरियाणा, देहली में प्रवचनों के माध्यम से धर्मप्रसार !

१. वाराणसी (उत्तरप्रदेश)

यहां के हीमोफीलिया सोसायटी वाराणसी की ओर से ‘शीतकालीन हीमोफीलिया शिविर’ का आयोजन किया गया । इस शिविर में हीमोफीलिया पीडित बच्चों के लिए सनातन संस्था वाराणसी द्वारा ‘मनोबल बढने हेतु साधना का महत्त्व’ इस विषय पर प्रवचन लिया गया । इसका लाभ ५० से अधिक बच्चों और युवकों ने लिया । इस समय महर्षि अध्यात्म विश्‍वविद्यालय की दृश्यश्रव्य-चक्रिका दिखाई गई ।

२. फरीदाबाद (हरियाणा)

यहां के भूड कॉलनी में संस्था द्वारा ‘साधना का महत्त्व’ इस विषय पर प्रवचन लिया गया । १२ जिज्ञासुओं ने प्रवचन का लाभ लिया । उपस्थित जिज्ञासुओं में से दो ‘सनातन प्रभात’ के सदस्य बने ।

३. देहली

यहां के एस जी एम केंद्र में श्रीमती आशा गुप्ता के घर उनके पति की तेरहवीं पर सनातन संस्था द्वारा प्रवचन लिया गया, जिसमें साधना, मृत्युपरांत के क्रियाकर्म एवं ‘श्री गुरुदेव दत्त’ नामजप का महत्त्व उपस्थित जनों को बताया । इसका लाभ २५ जिज्ञासुओं ने लिया ।

स्रोत : सनातन प्रभात हिन्दी