सनातन संस्था के ‘ज्ञानशक्ति प्रसार अभियान’ का शुभारंभ; संस्था का आवाहन ‘सर्वांगस्पर्शी ग्रंथसंपदा का लाभ लें’ !

सनातन के ग्रंथों का दिव्य ज्ञान समाज तक पहुंचाने के लिए संस्था की ओर से पूरे भारत में ‘ज्ञानशक्ति प्रसार अभियान’ चलाया जा रहा है । यह ग्रंथ समाज के प्रत्येक जिज्ञासु, मुमुक्षू, साधक इत्यादि तक पहुंचाकर हर किसी के जीवन का कल्याण हो, इसलिए यह ‘ज्ञानशक्ति प्रसार अभियान’ आरंभ किया गया है । अधिकाधिक लोग इन ग्रंथों का लाभ लें ।

चिपळुण (जनपद-रत्नागिरी) में बाढ पीडितों के लिए सनातन संस्था, हिन्दू जनजागृति समिति एवं स्थानीय संस्था-संगठनों की ओर से ‘सहायता अभियान’ !

सनातन संस्था, हिन्दू जनजागृति समिति एवं स्थानीय संस्था-संगठनों की ओर से चिपळुण में बाढ पीडितों को खाद्यान्न वितरित किया जा रहा है ।

दिल्ली के स्कूल में सनातन संस्था द्वारा ऑनलाइन प्रवचन

 रानी लक्ष्मीबाई के बलिदान दिवस के अवसर पर दिल्ली के साईदुला जेब, एमबी रोड स्थित लिटिल वन पब्लिक स्कूल में सनातन संस्था द्वारा ऑनलाइन प्रवचन का आयोजन किया गया ।

सांगली, कोल्हापुर एवं सोलापुर जिलों में ‘ऑनलाईन प्रथमोपचार शिविर’ संपन्न !

इस शिविर में मूलभूत जीवित रक्षा सहाय, हृदय-श्वसन पुनरुज्जीवन तंत्र का उपयोग, सुरक्षित आरामदायी स्थिति, पीठ में चोट लगने पर प्रथमोपचार करते समय क्या सावधानी बरतें, त्रिकोणी पट्टी की सहायता से झोली (स्लिंग) बांधना, रास्ते पर दुर्घटनाग्रस्त व्यक्ति के सिर से शिरस्त्राण (हेलमेट) निकालना, रोगी को अन्यत्र ले जाने की विविध पद्धतियां, ऐसे विविध विषयों पर मार्गदर्शन किया गया ।

महामारी एवं तीसरे महायुद्ध से अपनी रक्षा होने हेतु, इसके साथ ही तनावमुक्ति के लिए साधना करना आवश्यक ! – पू. अशोक पात्रीकर, धर्मप्रचारक, सनातन संस्था

महामारी एवं तीसरे महायुद्ध से अपनी रक्षा करने के लिए साधना करना आवश्यक है । आपातकाल में तनाव बढता है । स्वसूचना देने से उसे दूर कर सकते हैं । तनावमुक्ति के लिए साधना के अतिरिक्त विकल्प नहीं, ऐसा मार्गदर्शन सनातन संस्था के धर्मप्रचारक पू. अशोक पात्रीकर ने किया ।

केरल एवं पुद्दुचेरी (टीकेपी) आध्यात्मिक समिति’ की महिलाओं के लिए ‘नामजप का महत्त्व’ विषय पर संपन्न ‘ऑनलाईन’ व्याख्यान !

कोची कालिकत में ‘तमिलनाडू, केरल एवं पुद्दुचेरी (टीकेपी) आध्यात्मिक समिति’ की संचालिका श्रीमती स्नेहलता मालपाणीने अपनी समिति की महिलाओं के लिए ‘नामजप का महत्त्व’ इस विषय पर ‘ऑनलाईन’ प्रवचन आयोजित किया था । इस अवसर पर सनातन संस्था की श्रीमती शिल्पा मगदूम ने संस्था का परिचय, कुलदेवता एवं दत्त के नामजप का महत्त्व बताया

उत्तर भारत में श्रीरामनवमी एवं श्री हनुमान जयंती निमित्त विविध ऑनलाइन उपक्रम !

फरिदाबाद श्रीरामनवमी के अवसर पर फरीदाबाद में ऑनलाइन प्रवचन व श्रीरामजी के नामजप का आयोजन किया था । सनातन की साधिका श्रीमती संदीप मुंजाल ने श्रीराम नवमी का महत्‍व प्रवचन में उपस्‍थित जिज्ञासूओं को बताया ।

सनातन संस्था की ओर से उत्तर भारत में हिन्दू नववर्ष के निमित्त विविध उपक्रमों के माध्यम से जनजागृति

नववर्ष ३१ दिसंबर को न मनाकर चैत्र शुक्ल प्रतिपदा को क्यों मनाना चाहिए ?’, इस विषय पर सनातन संस्था की ओर से विविध स्थानों पर प्रवचन का आयोजन किया गया ।

महाशिवरात्रि के उपलक्ष्य में आयोजित ग्रंथ-प्रदर्शनी को जिज्ञासुओं का उत्तम प्रतिसाद

महाशिवरात्रि के उपलक्ष्य में ११ मार्च को सनातन संस्‍था की ओर से बिहार में पटना, गया, समस्‍तीपुर और उत्तर प्रदेश में भदोही, गाजीपुर, वाराणसी, मथुरा, अयोध्‍या और सुलतानपुर में सनातन के ग्रंथ और सात्त्विक उत्‍पादों की प्रदर्शनी लगाई गई थी ।

हरिद्वार के कुंभ मेले में सनातन संस्था की पुस्तक प्रदर्शनी में जिज्ञासुओं की उत्साहपूर्ण प्रतिक्रिया !

हरिद्वार यहां चल रहे कुंभ मेले में प्रथम पवित्र स्नान के अवसर पर सनातन संस्था द्वारा आयोजित पुस्तक प्रदर्शनी में श्रद्धालुओं द्वारा उत्साहपूर्ण प्रतिक्रिया व्यक्त की गई ।