हिन्दू राष्ट्र की स्थापना हेतु जातिधर्म भूलकर धर्मयोद्धा बनें ! – नैमिष सेठ, रा.स्व. संघ

यहां के धर्मरक्षक संगठन द्वारा आसूदानी चॅरिटेबल ट्रस्ट धर्मशाला में आयोजित तृतीय प्रांतीय हिन्दू अधिवेशन में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के भोपाळ समरसता विभागप्रमुख श्री. नैमिष सेठ वक्तव्य कर रहे थे । अपने वक्तव्य में उन्होंने यह प्रतिपादित किया कि, ‘यह वर्ष गुरु गोविंदसिंग का ३५० वा जयंति वर्ष है ।

देहली : उत्तरप्रदेश के राज्यपाल राम नाईकजी ने दी विश्व पुस्तक मेले में आयोजित सनातन की ग्रंथप्रदर्शनी को भेट

यहां के प्रगति मैदान में आयोजित किए गए विश्व पुस्तक मेलावा में उत्तरप्रदेश के राज्यपाल श्री. राम नाईक ने ९ जनवरी को भेट दी । तत्पश्चात् सनातन की ग्रंथप्रदर्शनी को भी भ्रमण करते समय कु. कृत्रिका खत्री ने उन्हें सनातन संस्था की जानकारी दी ।

हिन्दू राष्ट्र की स्थापना होनेतक धर्मप्रेमी शांति से नहीं बैठेंगे ! – सद्गुरु नंदकुमार जाधवजी, सनातन संस्था

ये कथित पुरोगामी हिन्दू समाज को निधर्मीवाद की ओर ले गए । दाभोलकर, पानसरे, कलबुर्गी एवं गौरी लंकेश की हत्याओं के प्रकरण में अकारण सनातन के विरोध में आरोप लगा कर सनातन को अपकीर्त किया जा रहा है ।

सेना का खच्चीकरण करनेवाला देशविरोधी कृत्य करनेवालों पर प्रविष्ट की गई याचिका पीछे लेनेवाला आत्मघातकी निर्णय निरस्त करें !

यहां के हिन्दुत्वनिष्ठों ने उपजनपदाधिकारी श्री. रामदास खेडेकर को निवेदन प्रस्तुत किया । निवेदन द्वारा ये मांगे की गई कि,‘काश्मीर में सेना पर पथराव करना, भारत का राष्ट्रध्वज जलाना, भारतविरोधी घोषणा देना इत्यादि अनेक देशविरोधी कृत्य करनेवाला आत्मघातकी निर्णय त्वरित निरस्त करें ।

‘हिन्दू राष्ट्र’ हिन्दुओं का संविधानिक अधिकार ! – सद्गुुरु (कु.) स्वाती खाडयेजी, सनातन संस्था

‘हिन्दू राष्ट्र’ स्थापित करने के उद्देश्य से हिन्दू जनजागृति समिति की ओर से ७ जनवरी को इंद्रप्रस्थ कार्यालय में प्रांतीय हिन्दू अधिवेशन का आयोजन किया गया था । उस समय आळंदी के देवीदास धर्मशाला के अध्यक्ष ह.भ.प. निरंजनशास्त्री कोठेकर महाराज वतव्य कर रहे थे ।

सनातन संस्था का कार्य उल्लेखनीय ! – महादेव जानकर, कैबिनेट मंत्री

यहां आयोजित की गई राष्ट्रीय गो सेवा परिषद के दूसरे दिन के दूसरे सत्र में राष्ट्रीय समाज दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष तथा कैबिनेट मंत्री श्री. महादेव जानकर ने सर्व गोसेवकों को गो उद्योग के संदर्भ में जानकारी दी ।

पाश्चात्त्य संस्कृति नुसार नववर्ष न मनाएं !’, इस विषय पर जागृति करने हेतु सिद्ध की गई फेसबुक फ्रेम का ६४ सहस्त्रों से अधिक लोगों ने उपयोग किया !

सनातन संस्था तथा हिन्दु जनजागृति समिति की ओर से ‘नववर्ष ३१ दिसम्बर के अतिरिक्त हिन्दु संस्कृति नुसार चैत्र शुक्ल पक्ष प्रतिपदा को मनाएं’, इस विषय पर सामाजिक संकेस्थल माध्यम से जनजागृति की गई । उसके लिए एक ‘फेसबुक फ्रेम’ सिद्ध की गई थी ।

पृथक माध्यमों तथा सामाजिक संकेतस्थलों द्वारा धर्मसभा का प्रसार ! – सद्गुरु नंदकुमार जाधव, सनातन संस्था

५ जनवरी को यहां के उत्सव मंगल कार्यालय में पत्रकार परिषद संपन्न हुई । उस समय हिन्दु जनजागृति समिति के महाराष्ट्र राज्य संगठक श्री. सुनील घनवट वक्तव्य कर रहे थे ।

राजधानी पुस्तक मेले में सनातन संस्था द्वारा ग्रंथ एवं सात्त्विक साहित्य-सामग्री प्रदर्शनी

भुवनेश्वर (ओडिशा) यहां पर पुस्तक मेले में प्रसिद्ध राजधानी बुक फेयर संस्था द्वारा आयोजित किए गए १८ वें पुस्तक मेले में, सनातन संस्था द्वारा अध्यात्म, धर्माचरण, राष्ट्र्ररक्षण तथा स्वास्थ्य, इन विषयों पर ग्रंथ, सात्त्विक वस्तुएं तथा धर्मशिक्षा देनेवाली फ्लेक्स प्रदर्शनी लगाई गई ।

एर्नाकुलम् (केरल) में सनातन संस्था की ओर से ‘अध्यात्म का महत्त्व’ इस विषय पर प्रवचन

यहां ३१ दिसम्बर को आयोजित किए गए एक पारिवारिक कार्यक्रम में सनातन संस्था की ओर से श्री. नंदकुमार कैमल ने ‘अध्यात्म का महत्त्व’ इस विषय पर प्रवचन किया ।

Donating to Sanatan Sanstha’s extensive work for nation building & protection of Dharma will be considered as

“Satpatre daanam”