पुणे जिले में सनातन के विविध उपक्रमों का समाज द्वारा बढता प्रत्युत्तर !

सनातन का ‘आदर्श गणेशोत्सव अभियान’ !

येवले चाय की दुकान में स्क्रीन से उद्बोधन (गोल में)
सनातन सत्यदर्शन विशेषांक पढते हुए धर्मप्रेमी

पुणे : धर्मशास्त्र के अनुसार गणेशोत्सव कैसे मनाएं ?, श्री गणेशमूर्ति का बहते पानी में विसर्जन क्यों करना चाहिए ?, ऐसे तथा ऐसे अनेक धार्मिक कृत्यों की समाज को जानकारी हो, इस उद्देश्य से सनातन संस्था की ओर से पुणे जनपद में विविध उपक्रमों का आयोजन किया गया है । हडपसर की मिकासा सोसाईटी तथा मुल्लानगर के गणेशोत्सव मंडल में गणेश चतुर्थी के विषट में सभी जानकारी देनेवाला प्रवचन लिया गया । ९५ जिज्ञासुआें ने इस प्रवचन का लाभ उठाया । मुल्लानगर के गणेशोत्सव मंडल में उद्बोधक फ्लेक्स प्रदर्शनी तथा सनातन निर्मित ग्रंथों की प्रदर्शनी लगाई गई । साथ ही मंडल के ब्यौरे में धर्मउद्बोधक लेख प्रकाशित किया गया । मामलेदार कचहरी चौक, शिवाजी मार्गपर स्थित ‘येवले चाय’ की दुकान में स्क्रीनपर ‘गणेश उपासना’ तथा ‘आदर्श गणेशोत्सव’ विषय की जानकारी प्रसारित की जा रही है और इस माध्यम से भी समाज का उद्बोधन किया जा रहा है । वारजे तथा कर्वेनगर क्षेत्र में गणेशोत्सव मंडल तथा समाज के गणमान्य व्यक्तियों से मिलकर उन्हें ‘सनातन सत्यदर्शन’ विशेषांक की जानकारी बताई गई ।

सत्यदर्शन विशेषांक के वितरण में धर्मप्रेमियों का सहभाग !

१. श्री. आप्पा बराटे से मिलनेपर उन्होंने अंक प्रायोजित किए तथा ‘यह अंक प्रत्येक व्यक्तितक पहुंचना चाहिए’, यह प्रतिक्रिया व्यक्त की।

२. अधिवक्ता पडवळ ने अंक लेकर उन्हें उनका सोसाईटी के लोगों में वितरण किया ।

३. श्री. मोहन ठेकेदार ने स्वयंस्फूर्ति से अधिक अंक मांग लिए ।

आव्हाळबाडी में छोटे बच्चों की बडी संख्या में उपस्थिति !

एकता मित्रमंडल, आव्हाळबाडी में १५ सितंबर को ‘आदर्श गणेशोत्सव कैसे मनाएं ?’, विषयपर मार्गदर्शन किया गया । इस अवसरपर ‘सनातन सत्यदर्शन’ विशेषांक के विषय में जानकारी दी गई । इस अवसरपर ५० छोटे बच्चे तथा मंडल के २५ कार्यकर्ता उपस्थित थे ।

विशेष

१. छोटे बच्चों से ‘ॐ गं गणपतये नमः’ नामजप करवा लिया गया । मंडल के कार्यकर्ताआें ने ‘इसके आगे भी हम बच्चों से यह नामजप नियमितरूप से करवा लेंगे’, ऐसा कहा ।

२. इस प्रवचन के आयोजन में धर्माभिमानी श्री. अजित आव्हाळे ने विशेष प्रधानता ली ।

नेरे में प्रवचन के लिए उमडा पूरा गांव !

नेरे (तहसील भोर) के बालसिद्धेश्‍वर गणेशोत्सव मंडल में सनातन संस्था की ओर से लिए गए ‘ज्येष्ठ गौरी तथा श्री गणेशपूजन का अध्यात्मशास्त्र’ प्रवचन में ५०० से भी अधिक, अर्थात पूरा गांव ही उमडा था । यहां के दैनिक सनातन प्रभात के पाठक श्री. बापू सावले ने प्रधानता लेकर इस प्रवचन का आयोजन किया । अधिकांश सभी ने सामूहिक प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि सनातन का कार्य बहुत अच्छा है।

स्त्रोत : दैनिक सनातन प्रभात