हिन्दु धर्म पर होनेवाले आक्रमण प्रतिबंधित करने हेतु संगठित रहें ! – कु. भव्या गौडा, सनातन संस्था

मरसुरू (बेंगलुरू) में हिन्दु धर्मजागृति सभा

दीपप्रज्वलन करते हुए बायी ओर से कु. भव्या गौडा, टी.एन्. कुमारस्वामी तथा श्री. मोहन गौडा

हिन्दु धर्म ही एक आदर्श जीवनपद्धति है ! – टी.एन्. कुमारस्वामी

मरसुरू (बेंगळुरू) – हिन्दु जनजागृति समिति की ओर से बेंगलुरू जनपद के मरसुरु गांव में आयोजित की गई हिन्दु धर्मजागृति सभा में जेष्ठ लेखक श्री. टी.एन्. कुमारस्वामी वक्तव्य कर रहे थे । अपने वक्तव्य में उन्होंने यह उद्गार व्यक्त किए कि, ‘हिन्दु धर्म एक आदर्श जीवनपद्धति है । हिन्दु धर्म संपूर्ण मानवजाति के लिए है तथा वह आध्यात्मिक उन्नति के लिए मार्गदर्शक है । धर्माचरण करने से गोहत्या तथा स्वभाषा का अनादर के समान समस्याओं का निराकरण होता है ।’ उस समय व्यासपीठ पर हिन्दु जनजागृति समिति के श्री. मोहन गौडा तथा सनातन संस्था की कु. भव्या गौडा उपस्थित थी ।

 

हिन्दु धर्म पर होनेवाले आक्रमण प्रतिबंधित
करने हेतु संगठित रहें ! – कु. भव्या गौडा, सनातन संस्था

पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के संदर्भ में सनातन संस्था पर झूठे आरोप कर संस्था की प्रतिमा मलीन करने का प्रयास आरंभ है । हिन्दु धर्म पर आनेवाली इन आपत्तियों का विरोध करने हेतु हिन्दुओं को संगठित होना चाहिए ।

 

भारत हिन्दु राष्ट्र घोषित करें ! – मोहन गौडा, हिन्दु जनजागृति समिती

हिन्दुबहुल भारत में निधर्मीवाद के नाम पर हिन्दुओं पर ही अन्याय किया जाता है । एक ओर सरकार की ओर से हज यात्रा के लिए अनुदान दिया जाता है; किंतु हिन्दुओं के उत्सवों के समय रेल टिकट में वृद्धि की जाती है । हिन्दु मंदिरों का सरकारीकरण किया जाता है । मंदिरों के करोडो रुपएं की निधी में भ्रष्टाचार किया जाता है । भारत को इस्लामी राष्ट्र घोषित करने का आतंकवादियों का षडयंत्र है । इस पाश्र्वभूमि पर भारत हिन्दु राष्ट्र घोषित करना अनिवार्य हुआ है ।

इस धर्मसभा के लिए २३० धर्माभिमानी हिन्दु उपस्थित थे । सभा के पश्चात् विचारविमर्श कार्यक्रम में ३६ धर्माभिमानी सम्मिलित हुए थे । उस समय उन्होंने पृथक ३ स्थानों पर धर्मजागृति सभा आयोजित करने की, साथ ही धर्मशिक्षण वर्ग आरंभ करने की मांग की ।

स्त्रोत : दैनिक सनातन प्रभात