ग्रहण के विषय में फैलाई जानेवाली भ्रांतियां

ग्रहण के विषय में अनेक बातें सामाजिक प्रचारमाध्यमों में घूमती रहती हैं । उनमें – ‘ग्रहणकाल में हवा अशुद्ध होती है’, ‘ग्रहणकाल में सोना नहीं चाहिए’ आदि बातें केवल गप हैं’, ऐसी आलोचना कुछ लोग करते हैं ।

इंडोनेशिया के अद्वितीय प्राचीन मंदिर और उनके निर्माण की विशेषताएं

काल की साक्ष्य में मंदिरों की रचना करने से आज अनेक शताब्दियां बीत जाने पर भी ये सर्व मंदिर शान से खडे हैं । उनके सौंदर्य का दर्शन करते हुए आंखें फटी रह जाती हैं और उनके वर्णन के लिए शब्द कम पड जाते हैं ।

कंबोडिया में एक समय पर अस्तित्व में होनेवाली हिन्दुओं की वैभवशाली संस्कृति के पतन का कारण और वर्तमान स्थिति !

७ वीं शताब्दी से लेकर १५ वीं शताब्दी तक जिन्होंने कंबोडिया पर राज्य किया, उस साम्राज्य को खमेर साम्राज्य कहते हैं । इस खमेर साम्राज्य के राजा स्वयं को चक्रवर्ती अर्थात ‘पृथ्वी के राजा’ समझते थे ।

युवकों को नशे के अंधकार में ढकेलनेवाले सनबर्न फेस्टिवल का विरोध !

राष्ट्रीय हिन्दू आंदोलन के माध्यम से पाश्‍चात्य भोगवाद को बल प्रदान करनेवाले, हिन्दू संस्कृति के लिए घातक तथा युवक-युवतियों को नशे के अंधकार में ढकेलनेवाले सनबर्न फेस्टिवल का तथा हिन्दुत्वनिष्ठों को झूठे आरोपों में फंसाने के षड्यंत्र का विरोध किया गया ।

विश्‍वसनीयता गंवा चुके प्रचारमाध्यम कहते हैं लोकतंत्र का चौथा स्तंभ !

कुछ पत्रकारों ने आप केवल कोड शब्द बताएं । आगे की स्टोरी हम बनाते हैं, ऐसा कहा ।

सनातन पर प्रतिबंध की मांग अर्थात हिन्दुत्वनिष्ठ संगठनों को समाप्त करने का साम्यवादियों का षड्यंत्र !

पिछले अनेक वर्षों से भारत में वामपंथी आंदोलन के नेताआें ने आधुनिकतावादी, समाजवादी कार्यकर्ताआें का बुरखा ओढकर समाज में साम्यवादी विचार फैलाने का कार्य किया है ।

सनातन संस्था पर कोर्इ प्रतिबंध नहीं लगा सकता ! – सुरेश हाळवणकर, विधायक, भाजपा

सनातन संस्था पर कोर्इ भी प्रतिबंध नहीं लगा सकता । सनातन पर प्रतिबंध के विरोध में मैं आवाज उठाऊंगा ।’

सनातन संस्था पर प्रतिबंध की मांग आैर हिन्दुत्वनिष्ठों पर हो रही अन्यायपूर्ण कार्यवाही का निषेध !

नालासोपारा विस्फोटक प्रकरण आैर दाभोलकर हत्या प्रकरण के अनुषंग से गत एक महीने में ९ हिन्दुत्वनिष्ठों को बंदी बनाया गया है । इनमें से कोर्इ भी सनातन संस्था का साधक नहीं है, तब भी सनातन संस्था पर प्रतिबंध लगाने की मांग कुछ राजनीतिक दल, संगठन, तथाकथित आधुनिकतावादी, मुसलमान नेता आदि कर रहे हैं ।

गुरुकृपायोग के अनुसार अष्टांग योगमार्ग से साधना करने से गुुरुकृपा शीघ्र होती है ! – योगेश शिर्के, सनातन संस्था

मुंबई में हिन्दू जनजागृति समिति की ओर से आयोजित हिन्दू राष्ट्र संगठक प्रशिक्षण कार्यशाला ! आत्मबल बढाने के लिए तथा ईश्‍वरप्राप्ति के लिए साधना आवश्यक है । जीवन में कभी-कभी अपेक्षित प्रयास कर भी सफलता नहीं मिलती । दुख के पीछे आध्यात्मिक कारण होता है, यह मनुष्य के ध्यान में नहीं आता । उसके लिए … Read more

पकडे गए कार्यकर्ता सनातन के हैं, यह दर्शाकर सनातन के विरोध में वातावरण बनाया जा रहा है ! – विधायक अजय चौधरी, शिवसेना

शिवसेना के विधायक श्री अजय चौधरी ने अपना मत व्यक्त करते हुए कहा कि, सनातन संस्था पर प्रतिबंध लगाने की जो मांग की जा रही है, उसके संबंध में मैं जानता हूं ।