टांझानिया (पूर्व आफ्रिका) में गणेशोत्सव के उपलक्ष्य में प्रसारित की गई फ्लेक्स प्रदर्शनी को श्रद्धालुओं द्वारा उत्स्फूर्त प्रतिसाद

अरूषा, (टांझानिया, पूर्व आफ्रिका) : यहां के श्री लक्ष्मीनारायण मंदिर परिसर के श्री हिन्दु युनियन के सभागृह में अरूषा गणेशोत्सव समिति की ओर से आयोजित किए गए सामुहिक गणेशोत्सव के उपलक्ष्य में सनातन संस्था तथा हिन्दू जनजागृति समिति द्वारा २५ अगस्त से २७ अगस्त २०१७ इस कालावधी में धर्मशिक्षण तथा क्रांतिकारकों की फ्लेक्स प्रदर्शनी आयोजित की गई थी । इस प्रदर्शनी का ६०० से अधिक श्रद्धालुओं ने लाभ प्राप्त किया ।

गणेशोत्सव में सम्मिलित हुए अरूषा के गणेशभक्त
फ्लेक्स फलक देखते समय जिज्ञासु

प्रतिक्रियाएं

१. विदेश में जन्में हिन्दुओं को अपनी देवता तथा त्योहारों के संदर्भ में अधिक जानकारी नहीं रहती, तुम ने यह धर्मशिक्षण फलक प्रसारित कर यहां के लोगों तक अच्छी जानकारी पहुंचाने का उत्तम कार्य किया है । – श्री. भद्रेश पंडित

२. अपने क्रांतिकारकों की जानकारी देनेवाले फलक पढकर अत्यंत अभिमान प्रतीत हुआ । – श्री. ऋषभ जैन

३. हिन्दु संस्कृति के अनुसार प्रथम श्री गणेशपूजन क्यों किया जाता है, उसका महत्त्व क्या है, आरती किस प्रकार करें, कुलदेवता के नामजप का महत्त्व, साथ ही श्री दत्तगुरु का नामस्मरण क्यों करना चाहिए ? यह सभी जानकारी पढकर
उचित मार्ग से साधना करने का महत्त्व ध्यान में आया । – श्री. मिलन पंड्या

४. धर्मशिक्षण फलकों की प्रदर्शनी आयोजित कर हिन्दु धर्म के संदर्भ में ज्ञान देने का तथा हिन्दुओं को जागृत करने का जो कार्य सनातन संस्था तथा हिन्दू जनजागृति समिति कर रही है, वह अत्यंत उल्लेखनीय है । – श्री. गवाने

५. धर्मशिक्षण फलक पढकर अत्यंत उपयुक्त जानकारी प्राप्त हुई । – श्री. आनंद देशपांडे

क्षणिकाएं

१. धर्मशिक्षण फलकों की संगणकीय धारिका की मांग कर अरूषा में उसका मुद्रण किया गया । मुद्रण का व्यय वहां के भारतीय गणेशभक्तों ने संगठित रूप से किया ।

२. उस समय उपाqस्थत बहुसंख्यंक महिलाओं ने साडी परिधान की थी । इस से परदेश में निवास करते हुए भी यहां के भारतियों में अपनी संस्कृति के प्रति होनेवाली अस्मिता स्पष्ट हो रही थी ।

स्त्राेत – मराठी सनातन प्रभात