हिन्दु युवकों को असीम वीरता प्रदर्शित करने की आवश्यकता है ! – प्रसाद वडके, हिन्दु जनजागृति समिति

कार्यक्रम के लिए उपस्थित धर्माभिमानी

कल्याण, ६ दिसम्बर –कल्याण जनपद परिषद मराठी पाठशाला का मैदान, पिसावली गांव में वीरता जागर कार्यक्रम संपन्न हुआ । उस समय हिन्दु जनजागृति समिति के श्री. प्रसाद वडके वक्तव्य कर रहे थे । अपने वक्तव्य में उन्होंने यह प्रतिपादित किया कि, ‘हिन्दु राष्ट्र एक सपना नहीं, तो संकल्प है । यह संकल्प साक्षात् भगवंत का है । हिन्दु युवकों ने साधना के द्वारा संगठन कर असीम वीरता प्रदर्शित करने की आवश्यकता है । हिन्दुओं को पराक्रम का इतिहास है । वीरता तथा पराक्रम का इतिहास केवल पठन करने के लिए नहीं
है, तो उससे आदर्श प्राप्त कर सक्रिय होने के लिए है ।’ इस कार्यक्रम का लाभ १०० धर्मप्रेमियों ने ऊठाया ।

श्री. वडके ने आगे यह वक्तव्य किया कि, श्रीकृष्ण ने रणभूमि में भगवद्गीता कथन की । युद्ध के अतिरिक्त श्रीराम को भी राज्य प्राप्त नहीं हुआ । अतः राजनेताओं के माध्यम से हिन्दु राष्ट्र की प्राप्त होगी, इस भ्रम में रहने की अपेक्षा रामभक्तों को हिन्दु राष्ट्र के ध्येय से संगठित होकर वीर प्रशिक्षण करने के प्रयास करने चाहिए ।

 

सम्मिलित संगठन तथा पक्ष

हिन्दु राष्ट्र सेना, सह्याद्री प्रतिष्ठान, हिन्दुस्थान, शिवशाही प्रतिष्ठान, अखंड हिन्दु, बजरंग दल, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, शिवसेना, मनसे, विश्व हिन्दु परिषद, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, सनातन संस्था, हिन्दु जनजागृति समिति

 

क्षणिकाएं

१. लाठीकाठी के प्रात्यक्षिकों को सभी का उत्स्फूर्त प्रतिसाद प्राप्त हुआ ।

२. पद्मावती चित्रपट के विरोध में किए गए आंदोलन में भी सम्मिलित होने की इच्छा सभी ने व्यक्त की ।

३. दो गांवों में स्वसंरक्षण प्रशिक्षण की मांग की गई ।

४. हिन्दु राष्ट्र सेना के श्री. आशिष पांडे सभा के लिए अग्रेसर रहें ।

५. कार्यक्रम के अंत में श्री शिवप्रतिष्ठान हिन्दुस्थान की ओर से ध्येयमंत्र का पठन एक छोटे बालक ने किया ।

स्रोत : दैनिक सनातन प्रभात