शिव

सनातन हिंदु धर्ममें उपासनाकी विविध पद्धतियां बतायी गयी हैं । इसका कारण एकही है कि जीव अपनी प्रकृतिके अनुसार, लगनके अनुसार किसी भी पद्धतिका आचरण कर उपासना करें एवं ईश्वरप्राप्ती करनेका प्रयास करें । शिवकी उपासना भी विविध पद्धतियोंसे की जाती है । शिवकी उपासनामें विशेषकर विविध व्रतोंका विधान है ।

भगवान शिव से संबंधित जानकारी

भगवान शिवका व्रत – महाशिवरात्री

शिव मंदीरोंकी जानकारी

मिथ्या धारणाओं का खंडन

भगवान शिव का नामजप (Audio)

  • ॐ नम: शिवाय

    १. शिवजी के नामजप का महत्त्व     ‘नमः शिवाय ।’ यह...

शिवतत्त्व आकृष्ट तथा प्रक्षेपित करनेवाली रंगोलियाँ

शक्तिकी अनुभूती प्रदान करनेवाली रंगोली

११ से ६ बिंदू दोनों ओर से

शांतिकी अनुभूती प्रदान करनेवाली रंगोली

मध्यबिंदुसे अष्टदिशाओं में प्रत्येकी ४ बिंदू

This section is also available in : EnglishMarathi