शास्त्रानुसार बनाई गई पर्यावरणपूरक श्री गणेशमूर्ति बहते पानी में विसर्जित करना ही धर्मसम्मत है ! – सनातन संस्था

धर्मशास्त्रों में ‘श्री गणेशमूर्ति शाडूमिट्टी अथवा चिकनी मिट्टी से बनी और प्राकृतिक रंगों से रंगी हुई होनी चाहिए, तथा मूर्ति और निर्माल्य का विसर्जन बहते पानी में करना चाहिए’, ऐसा ‘पूजासमुच्चय’ एवं ‘मुद्गलपुराण’ ग्रंथों में कहा गया है ।

सनातन संस्था अध्यात्मप्रचार करती है, हिंसाचार नहीं ! – श्री. चेतन राजहंस, सनातन संस्था

महाराष्ट्र आतंकवाद विरोधी दल ने पिछले कुछ दिनों में कुछ हिन्दुत्वनिष्ठों को बंदी बनाया । ये सभी सनातन के साधक हैं, ऐसा दुष्प्रचार कुछ आधुनिकतावादी व्यक्ति, संगठन, तथा कांग्रेस आदि दलों के राजनेता जानबूझकर कर रहे हैं । इस संदर्भ में समय-समय पर सनातन संस्था ने अपनी भूमिका स्पष्ट की है; वह हम आज फिर स्पष्ट कर रहे है …

सनातन संस्था के प्रमुख को गिरफ्तार करने की मांग करनेवाले भ्रष्टाचारी राधाकृष्ण विखे पाटील को ही पहले गिरफ्तार करें !

कांग्रेस के उतावले नेता निरंतर मांग कर रहे हैं, सनातन पर प्रतिबंध लगाओ और सनातन के प्रमुख को गिरफ्तार करो ! कांग्रेस के नेता अपनी चमडी बचाने के लिए सनातन को लक्ष्य करने के लिए यह मांग कर रहे हैं ।

प्रखर हिन्दुत्वनिष्ठ सनातन संस्था को समाप्त करने हेतु सनातन पर प्रतिबंध का शोर मचाना, धर्मविरोधियों का षड्यंत्र है ! – श्री. चेतन राजहंस

महाराष्ट्र राज्य में कहीं भी किसी आधुनिकतावादी की हत्या हो जाए अथवा अन्य कोई हिन्दुत्ववादी किसी प्रकरण में पकडा (फंसाया) जाए, तत्काल किसी भी जांच की औपचारिकता पूरी किए बिना, हर प्रकरण में सीधे सनातन संस्था का नाम लिया जाता है ।…

श्री. वैभव राऊत सनातन के साधक नहीं; इसलिए आधुनिकतावादियों की सनातन पर प्रतिबंध की मांग अनुचित !

मालेगांव बम-विस्फोट प्रकरण में यदि हिन्दुत्वनिष्ठों के घर में एटीएस के अधिकारी आरडीएक्स रख सकते हैं, तो यही श्री. वैभव राऊत के साथ नहीं हुआ, ऐसे कोर्इ कह नहीं सकता । अभी तक उनके खिलाफ कोई भी सबूत नहीं मिला है, इसलिए अभी से उन्हें  दोषी मानना अनुचित होगा ।…

हिन्दुत्वनिष्ठ वैभव राऊत की गिरफ्तारी है ‘मालेगांव पार्ट 2’ !

श्री. वैभव राऊत एक साहसी गोरक्षक हैं और वे गोरक्षा करनेवाले संगठन हिन्दू गोवंश रक्षा समिति के माध्यम से सक्रिय थे ।

गौरी लंकेश हत्याकांड : हिन्दू आरोपियों को पीटकर अपराध स्वीकार करवाने से जांच पर ही प्रश्‍नचिन्ह ! – सनातन संस्था

पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के आरोप में कर्नाटक पुलिस के विशेष जांच दल ने अब तक कुछ हिन्दुआें को बंदी बनाया है । इस संदर्भ में निश्‍चित घटनाक्रम से हम अनभिज्ञ थे; परंतु आरोपियों की पिटाई के विषय में अब कर्नाटक उच्च न्यायालय ने ब्यौरा मंगवाया है, इसलिए इस प्रकरण में सत्य बाहर आ रहा है ।

प.पू. आसारामबापूजी को उच्च न्यायालय में न्याय मिलेगा, ऐसी हमारी श्रद्धा है ! – सनातन संस्था

इससे पहले भी अनेक लोगों को कनिष्ठ न्यायालय में मिला दंड, उच्च तथा सर्वोच्च न्यायालय ने निरस्त किया है । हमारी न्याय देवता पर श्रद्धा है और इस प्रकरण में उच्च न्यायालय में प.पू. आसारामबापूजी को न्याय मिलेगा, ऐसी आशा है ।

पत्र में ईसाई व्यक्ति ने दी सनातन संस्था के संस्थापक डॉ. आठवले जी की हत्या करने की धमकी; पुलिस में शिकायत दर्ज

सनातन संस्था के मुख्य कार्यालय फोंडा, गोवा स्थित सनातन के आश्रम में सनातन संस्था के प्रवक्ता श्री. चेतन राजहंस के नाम आज सवेरे एक धमकी भरा पत्र डाक से मिला । जेम्स अण्णामलाई नामक ईसाई व्यक्ति ने अपने सचल दूरभाष क्रमांक (मोबाइल नंबर) के साथ यह पत्र भेजा है ।