विरोध होते हुए भी ‘हिन्दु राष्ट्र’ स्थापना हेतु सनातन संस्था कार्यरत ! – संगीता नाईक, सनातन संस्था

हिन्दु जनजागृति समिति की धर्मजागृति सभाओं के नूतन सत्रों को गोवा राज्य में भी प्रारंभ

सभी का उत्कर्ष करनेवाले ‘हिन्दु राष्ट्र’ की स्थापना करने
हेतु सिद्ध रहें ! – गोविंद चोडणकर, हिन्दु जनजागृति समिति

नेवरा (गोवा) – हिन्दु धर्मजागृति सभाओं का नूतन सत्र गोवा के नेवरा में २६ नवम्बर को सायंकाल के समय श्री महालक्ष्मी मंदिर में हिन्दु धर्मजागृति सभा से प्रारंभ हुआ । इस सभा में प्रमुख वक्ता के रूप में हिन्दु जनजागृति समिति के श्री. गोविंद चोडणकर वक्तव्य कर रहे थे । अपने वक्तव्य में उन्होंने यह आवाहन किया कि, ‘भ्रष्टाचारी, निरर्थक तथा अल्पसंख्यांकों का लांगूलचालन करने हेतु हिन्दुओं पर अन्याय करनेवाला धर्मनिरपेक्ष जनतंत्र परिवर्तित कर सभी का उत्कर्ष करनेवाला कल्याणकारी ‘हिन्दु राष्ट्र’ स्थापन करने हेतु सिद्ध रहें ।’ उस समय व्यासपीठ पर सनातन संस्था की कु. संगीता नाईक भी उपस्थित थी ।

श्री. चोडणकर ने आगे यह वक्तव्य किया कि, ‘‘आज २६/११ के गहरे काले दिन के स्मरण होता है । पाकिस्तान से आए आतंकवादियों ने इसी दिन आक्रमण किया था । यह आतंकवाद किस प्रकार से समाप्त करना है, इस की सीख हमें छत्रपति शिवराय ने ४०० वर्ष पूर्व दी हैै । प्रतापगड में शिवराय ने आतंकवाद समाप्त किया था । हम उनके वंशज हैं । अतः आगामी कालावधी में आतंकवाद से भय रखने का कुछ कारण नहीं है । उसके लिए केवल स्वयं में छत्रपति शिवराय के समान धर्मतेज जागृत करने की आवश्यकता है ! उन्हीं के अनुसार धर्मतेज जागृत कर हम ‘हिन्दु राष्ट्र’ स्थापना के प्रयास करेंगे ।’’

कु. संगीता नाईक ने सनातन संस्था के हिन्दु राष्ट्र स्थापित करने के लिए किए जानेवाले प्रयास; संस्था की राजनीति, जांच तंत्र, पुरोगामी तथा बुद्धीवादियों द्वारा दिए जानेवाले कष्ट के संदर्भ में जानकारी दी । उन्होंने बताया कि, ‘‘इतना विरोध होते हुए भी ‘हिन्दु राष्ट्र’ स्थापना हेतु सनातन संस्था कार्य कर रही है । ईश्वर के आशीर्वाद से तथा संतों के संकल्प से ‘हिन्दु राष्ट्र’ निश्चित ही स्थापन होगा । हम सभी को धर्माचरण कर इस धर्मसंस्थापना के कार्य में सम्मिलित होना आवश्यक है ।’’

स्त्रोत : दैनिक सनातन प्रभात