सनातन संस्था बहुत अच्छा कार्य कर रही है ! – महंत नरेंद्रगिरी महाराज एवं महंत श्रीहरिगिरीजी महाराज

महंत नरेंद्रगिरी महाराज एवं श्रीहरिगिरीजी महाराज ने प्रशंसा करते हुए कहा,‘‘सनातन संस्था बहुत अच्छा कार्य कर रही है ।’’

दिव्यत्व की प्रचिती का उर्जास्त्रोत्र है सनातन आश्रम ! – ह.भ.प. बाळासाहेब बडवे, भागवत कथाकार, पंढरपुर

‘यदि व्यक्ति के जीवन में धर्म नाम के चैतन्य का अभाव रहेगा, तो असुरी वृत्ति की एक प्रभावळ इस विश्व में निर्माण होगी । यह प्रभावळ देशविघातक सिद्ध होगी, उसके लिए परात्पर गुरु डॉ. जयंत आठवलेजी की प्रेरणा से निर्माण हुए सनातन संस्था के समान एक विशाल कल्पवृक्ष की इस विश्व को अत्यंत आवश्यकता है ।

परात्पर गुरु डॉ. जयंत बाळाजी आठवलेजी का कार्य देश में पहले क्रम का ! – शेठ नानजीभाई खिमाजीभाई ठाणवाला, अध्यक्ष, एन्.के.टी. विद्यालय

यहां के एन्.के.टी. विद्यालय के अध्यक्ष शेठ नानजीभाई खिमाजीभाई ठाणवाला ने गौरवोद्गार व्यक्त करते हुए कहा कि परात्पर गुरु डॉ. जयंत बाळाजी आठवले संपूर्ण भारत में पहले क्रम का कार्य कर रहे हैं ।

सनातन के रामनाथी आश्रम को एक बार अवश्य भेंट करें, पुनः वहां जाने की इच्छा होगी, ऐसा ईश्वर वहां है ! – बाळासाहेब बडवे, पत्रकार तथा संपादक दैनिक पंढरी संचार

पंढरपुर के शासकीय वसाहत के श्री गणेश मंदिर ट्रस्ट में ह.भ.प. प्रकाश निकते गुरुजी द्वारा संपादित किए गए ‘संत नामदेव अभंग चिंतनिका’ इस ग्रंथ का प्रकाशन समारोह संपन्न हुआ ।

सनातन संस्था के ग्रंथ समाज को दिशादर्शक ! – मयुर घोडके, शिवसेना

श्री दुर्गामाता मंदिर के सामने सनातन द्वारा आयोजित ग्रंथप्रदर्शनी का अनावरण शिवसेना शहरप्रमुख श्री. मयुर घोडके के हाथों किया गया । उस समय उन्होंने यह वक्तव्य किया कि, ‘समाज को आज अध्यात्म तथा धर्म की अत्यंत आवश्यकता है ।

सनातन संस्था के कार्य को सहायता करने के लिए निरंतर तत्पर ! — प्रमोद कोंढरे, अध्यक्ष, बाजीराव रस्ता नातुबाग मित्र मंडळ

गणेशोत्सव निमित्त हिन्दू जनजागृति समिति द्वारा आयोजित किए गए प्रबोधन कक्ष का उद्घाटन बाजीराव पथ नातुबाग मित्र मंडल के अध्यक्ष तथा कसबा मतदारसंघ के भाजपा सरचिटणीस श्री. प्रमोद कोंढरे के हाथों नारियल फोडकर किया गया |

परात्पर गुरु डॉ. आठवलेजी के कार्य के विषय में मान्यवरों द्वारा निकाले गए उद्गार !

आज जानबूझकर, आस्था के साथ एवं ईश्‍वरीय प्रेरणा से जागृति करनेवाली व्यक्ति यदि कोई होगा, तो वे हैं डॉ. जयंत आठवलेजी ! उनको आद्य शंकराचार्यजी अथवा समर्थ रामदासजी का अवतार ही कहना होगा । आज की भाषा में डॉ. आठवलेजी को केवल संत कहना अनुचित होगा ।

नागालैंड के राज्यपाल पद्मनाभ आचार्य से सनातन संस्था एवं हिन्दू जनजागृति समिति के कार्यकर्ताआें ने की सदिच्छा भेंट !

सनातन संस्था के कर्नाटक राज्यसेवक श्री. रमानंद गौडा, हिन्दू जनजागृति समिति के श्री. प्रभाकर पडियार, श्री. भरत प्रभु, साथ ही धर्माभिमानी श्री. अनंत कामत ने नागालैंड के राज्यपाल श्री. पद्मनाभ आचार्य से यहां २३ दिसंबर को सदिच्छा भेंट की ।

सनातन के प्रतिनिधि मंडल की केंद्रीय भारी उद्योगमंत्री अनंत गीते से भेंट !

नई देहली यहां के केंद्रीय भारी उद्योगमंत्री (हेवी इंडस्ट्रीस मिनिस्टर) तथा शिवसेना के सांसद अनंत गीते से सनातन संस्था के प्रतिनिधि मिलने गए ।